शेयर मार्केट क्या हैं Share Market Kya Hain

 शेयर मार्केट को भारत में लीगल सट्टा कहा जाता हैं। क्योंकि यह लीगल है इसलिए सुरक्षित है और क्योंकि यह उतार चढ़ाव से भरा हुआ हैं इसलिए यह असुरक्षित भी हैं।

 सुनने में थोड़ा अजीब जरूर हैं लेकिन सच हैं। शेयर बाजार में निवेश करना आपकी ज़िन्दगी का सबसे बेहतरीन फैसला भी हो सकता है और सबसे बुरा भी। लेकिन अगर अच्छी नॉलेज के साथ निवेश किया जाए तो Profit मिलना तय हैं। आप काफी कम रुपये से भी शेयर बाजार में निवेश कर सकते हो! लेकिन कैसे?

 इस लेख में हम ‘शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे‘ 

(Share Market Me Invest Kaise Kare in Hindi) के विषय पर ही बात करेंगे। 

कुछ लोग रिस्क लेने से डरते हैं! ऐसे लोग अक्सर बड़े मौके गवा देते हैं जो उनकी ज़िन्दगी को बदल सकते हैं। शेयर बाजार भले ही रिस्क से भर हुआ है लेकिन अगर पूरी Knowledge के साथ काम किया जाए तो यह पैसे कमाने के किये सबसे बेहतरीन तरीको में से एक हैं। दुनिया के जितने भी बड़े बिजनेसमैन हैं, वह सभी शेयर बाजार के जरिये भी काफी अच्छा पैसा कमाते हैं। भारत में भी राकेश झुनझुनवाला और राधाकृष्ण दमानी जैसे लोगो ने शेयर मार्केट के जरिये करोड़ो ही नही बल्कि अरबो रुपये कमाये हैं। अगर आप शेयर बाजार में निवेश करने की सोच रहे हो तो आपको पता होना चाहिए की ‘शेयर बाजार में निवेश कैसे करते हैं‘?

आज के इस लेख में हम शेयर बाजार से पैसे कमाने के बारे में विस्तार से बात करेंगे। इस लेख में हम शेयर बाजार क्या हैं, शेयर बाजार में निवेश क्यों करे, शेयर बाजार में इन्वेस्ट कैसे करे (Share Market Me Invest Kaise Kare), शेयर बाजार में प्रॉफिट कैसे निकाले जैसे विषयो पर बात करेंगे। 

Contents

1 शेयर मार्केट क्या हैं – Share Market Kya Hain (What is Share Market in Hindi)

2 शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाते हैं? How to Earn Money from Share Market

3 शेयर बाजार में निवेश क्यों करे? Reason behind Investing in Share Market

4 शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे? – Share Market Me Invest Kaise Kare in Hindi

4.0.1 1. IPOs

4.0.2 2. Secondary Share Market

5 शेयर बाजार में उतार चढ़ाव कैसे होता हैं?

6 Share Market से प्रॉफिट कैसे निकाले? Share Market Me Profit Kaise Kamaye

शेयर मार्केट क्या हैं – Share Market Kya Hain (What is Share Market in Hindi)

Share Market की काफी लोग Stock Market के नाम से भी जानते हैं। 

Share Market एक ऐसी जगह हैं जहाँ लोग कंपनियों के शेयर को खरीदे और भेजते हैं। अगर आपको शेयर्स समझ नही आते तो आसान भाषा में बता दे कि आपके पास जिस कंपनी के जितने शेयर होते हैं

 आप उस कंपनी के उतने ही मालिक होते हैं। यानी कि अगर आप आधिकारिक तौर पर किसी कंपनी के 1% शेयर खरीद लेते हो तो आप उस कंपनी के 1% मालिक बन जाते हो। शुरुआत में शेयर बाजार बचत करने का एक तरीका हुआ करता था जहां पर लोग कंपनियों के शेयर में पैसे निवेश करते थे

 और अधिक शेयर्स होने पर अपने बड़े सपने पूरे करते थे। लेकिन शेयर बाजार में ऊंच-नीच भी है। कंपनियों की ग्रोथ और कंपनियों को होने वाले फायदे और नुकसान के अनुसार कंपनियों के शेयर की Price घटती और बढ़ती हैं। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति को कंपनी के चाल चलन समझ में आ जाती है और शेयर बाजार की अच्छी नॉलेज होती है तो वो Trading के माध्यम से पैसे कमा सकता हैं। शेयर बाजार एक ऐसी जगह होती है जहा पर शेयर्स को खरीदा और बेचा जाता हैं। 

भारत में Bombay Stock Exchange और National Stock Exchange of India Limited

 जैसे शेयर बाजार हैं। शेयर बाजार में शेयर खरीदने के लिए ब्रोकर्स (दलाल) होते हैं। शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाते हैं? How to Earn Money from Share Market

शेयर बाजार से पैसे कमाने में दो चीजो की सख्त जरूरत होती हैं: किस्मत और नॉलेज! शेयर बाजार से पैसे कमाने के लिए आपको शेयर बाजार की अच्छी जानकारी लेना जरूरी हैं। सबसे पहले आपको उन कम्पनियो की जानकारी लेनी होगी जहा आप निवेश करना चाहते हो। अगर वह कम्पनिया प्रॉफिट कमाती है या ग्रोथ करती है तो शेयर्स की कीमते बढ़ेगी और उन्हें अधिक कीमत में बेचने पर आपको फायदा होगा। शेयर बाजार में प्रॉफिट कमाना बिल्कुल प्रॉपर्टी में प्रॉफिट कमाने जैसा हैं। यानी की अगर आप किसी घर या जमीन (प्रॉपर्टी) आदि को कम पैसो में खरीदकर ज्यादा में बेचते हो तो आपको प्रॉफिट होता है। यह प्रॉफिट ही आपकी कमाई होती हैं। इसी तरह से शेयर बाजार में होता हैं। शेयर्स भी एक तरफ से प्रॉपर्टी होते हैं। जिन्हें हम सस्ते ने खरीदकर महंगे ने बेचे तो हने प्रॉफिट होता और वह प्रॉफिट हमारी कमाई होगी। इसे ट्रेडिंग कहते हैं। शेयर बाजार में ट्रेडिंग से ही पैसे कमाये जाते हैं। 

शेयर बाजार में निवेश क्यों करे? 

Reason behind Investing in Share Market

शेयर बाजार में निवेश करने का कारण आपको खुद सोचना होगा। अगर आप थोड़ा रिस्क लेने के लिए तैयार हो तो शेयर बाजार निवेश के लिए सबसे बेहतरीन विकल्प हैं। लोगो ने शेयर बाजार से अरबो रुपये भी कमाये हैं। 

शेयर बाजार में आप अपने Goals के हिसाब से पैसे निवेश कर सकते हो। शेयर बाजार में आप चाहे तो सुबह पैसे लगाकर शाम को निकाल सकते हो या फिर लम्बे समय के लिए भी निवेश कर सकते हो। अगर आप कम्पनी पर अच्छी तरह से रिसर्च करने के बाद शेयर खरीदते हो और Long Term इन्वेस्टमेंट करते हो तो यह एक Profit का सौदा होगा। शेयर बाजार अवसरों से भरपूर हैं। धीरे धीरे जब आप इन्वेस्ट करते रहोगे तो आपकी नॉलेज बढ़ेगी। क्योंकि हर समय कोई न कोई कम्पनी प्रॉफिट कमा ही रही होती हैं। जैसे की लॉकडाउन में जब अधिकतर कम्पनिया ठप्प पड़ गयी थी तब भी ई-कॉमर्स कम्पनिया, टेलीकॉम कम्पनिया, 

वह कम्पनिया जो सेनेटाइजर और दवाइया बनाती है आदि अपने बेहतरीन समय में थी। ऐसे में जिन लोगो के पास इन कम्पनियो के शेयर्स थे उनकी सम्पत्ति में इजाफा हुआ। शेयर बाजार में निवेश करने के कई कारण हो सकते हैं: जैसे की आप रिटायरमेंट के लिये पैसा जमा कर रहे हो या फिर आ शेयर बाजार को पैसे कमाने का एक जरिया बनाना चाहते हो आदि। 

शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे? –

 Share Market Me Invest Kaise Kare in Hindi

Share Market Me Invest Kaise Kare

Share Market Me Invest Kaise Kare

अगर आप शेयर बाजार के बारे में अच्छी जानकारी रखते हो और आपको लगता हैं की आप शेयर बाजार से अच्छा प्रॉफिट निकाल सकते हो तो आपको Share Market में जरूर इन्वेस्ट करना चाहिए। अगर आपको नहीं पता की Share Market Me Invest Kaise Karte Hai तो ये लेख आपके ही लिए हैं। इस लेख में हम आपको शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के बारे में (Share Market Me Invest Kaise Kare in Hindi) देने वाले हैं। शेयर बाजार में निवेश के लिए आपको किसी ब्रोकर कम्पनी का चुनाव करना होगा और डीमेट अकाउंट खुलवाना होगा। शेयर बाजार में निवेश के लिए निम्न चीजे आवश्यक हैं:

• पैन कार्ड

• डिमैट अकाउंट

• ट्रेडिंग अकाउंट

• लिंक्ड बैंक अकाउंट

डीमेट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिये आवश्यक डाक्यूमेंट्स :

• पैन कार्ड

• आधार कार्ड

• आपके नाम का आपके बैंक अकाउंट से एक कैंसिल चेक

• एड्रेस प्रूफ

• इनकम प्रूफ

• फोटोग्राफ्स

अगर आपके पास यह सभी चीजे हो तो आप डीमेट अकाउंट खोल सकते हो। आज से कुछ सालो पहले तक शेयर बाजार में निवेश करना थोड़ा मुश्किल हुआ करता था। आपको दलालों और दलाल कम्पनियो को ढूंढना पड़ता था और उन्हें फोन कर-करके शेयर्स खरीदना और बेचना होता था। लेकिन अब आप ऑनलाइन ब्रोकर कम्पनियो के माध्यम से सीधे Share Market में Invest कर सकते हो। साथ में पारदर्शिता भी बनी रहती हैं। शेयर बाजार में निवेश करने के 2 तरीके होते हैं:

1. IPOs

प्राइमरी बाजार में निवेश करना IPO होता हैं। इसमे जब कम्पनीया IPO (Initial Public Offering) करती हैं तब शेयर्स के लिए निवेश करना होता हैं। इसके लिए आपको ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए ट्रेडिंग अकाउंट और Shares को होल्ड करने के लिए डीमेट अकाउंट की जरूरत पड़ती हैं। 

आप इसमे अपने बैंक अकाउंट के जरिये भी शेयर खरीदने के लिए अप्लाई कर सकते हो। Initial Public Offering में आपको अलॉट किये जाने वाले शेयर्स की संख्या बाजार के IPO को लेकर रिस्पॉन्स पर निर्भर करता हैं। सभी IPO एप्लीकेशन रिसीव करने के बाद कम्पनी डिमांड और शेयर्स की उपलब्धता के अनुसार शेयर्स अलॉट करती हैं। ASBA (Application Supported by Blocked Amount) प्रक्रिया के माध्यम से आप IPO के लिये अपने नेट बैंकिंग अकाउंट के जरिये आसानी से अप्लाइ कर सकते हो। इस प्रक्रिया में आप जितने अमाउंट से IPO के लिए अप्लाई करते हो वो अमाउंट कम्पनी के पस्य नही जाता। 

वह अमाउंट आपके बैंक अकाउंट में ब्लॉक हो जाता है और जैसे ही अमाउंट की कीमत के शेयर्स आपके डीमेट अकाउंट में आते है वो अमाउंट रिलीज हो जाता हैं। तब जाकर वह अमाउंट कम्पनी को मिलता हैं। सभी IPO ऍप्लिकेशन्स को प्रोसीजर फॉलो करना होता है। एक बार जब शेयर अलॉट हो जाते है तो उसके बाद उन शेयर्स को एक सप्ताह के अंदर शेयर बाजार में लिस्ट कर दिया जाता हैं। इसके बाद आप उन शेयर्स से ट्रेडिंग शुरू कर सकते हो।

2. Secondary Share Market

सेकंडरी शेयर मार्केट को ही पैसे कमाने का एसली तरीका माना जाता हैं। एक्सपर्ट्स का मानना हैं की सेकंडरी मार्केट ही मुख्य शेयर बाजार हैं जिसे हम Stock Market भी कहते हैं। सेकंडरी मार्केट ही वह जगह हैं जहा निवेशक ट्रेडिंग करते है और Stocks को खरीदते और बेचते हैं। Secondry Market में निवेश करने के लिए आपको Trading अकाउंट की आवश्यकता होती हैं।

 साथ ही आपको एक डीमेट अकाउंट और एक लिंक्ड बैंक अकाउंट की आवश्यकता होगी। शेयर बाजार में पैसे कमाने का मुख्य तरीका ट्रेडिंग ही हैं जो सेकंडरी मार्केट में ही सम्भव हैं। सेकंडरी मार्केट में निवेश करने के लिए आपको काफी सारे ऑनलाइन ब्रोकर मिल जाएंगे। लेकिन ध्यान रखे, ग्राफ ऊपर नीचे करके पैसे कमाने का झांसा देने वाले Apps और Websites शेयर बाजार का हिस्सा नहीं हैं। इसलिये केवल बेहतरीन और विश्वसनीय ब्रोकर कम्पनियो का ट्रेडिंग के लिए इस्तेमाल करे।

 इस समय बाजार में Groww, Zerodha, 5paisa जैसी कई विश्वसनीय कम्पनिया है जिनकी मदद से आप शेयर बाजार और म्युचुअल फंड्स में इस्तेमाल कर सकते हो। ब्रोकर कम्पनी के साथ डीमेट अकाउंट खोलने के बाद आप अपने अकाउंट में फंड्स जमा करके सीधे शेयर्स खरीदना और बेचना शुरू कर सकते हो। जब किसी कम्पनी के शेयर्स की मांग कम होगी और बेचने वाले ज्यादा होंगे तो शेयर्स की कीमत बढ़ेगी और जब शेयर्स की मांग अधिक होगी और बेचने वाले कम होंगे तब कीमत बढ़ेगी। इसके अलावा मुख्य उतार-चढ़ाव कम्पनी की ग्रोथ के ऊपर निर्भर करता हैं। यानी की अगर आप सही समय पर शेयर्स खरीदकर सही समय पर शेयर्स बेचते हो तो आपको अच्छा प्रॉफिट मिल सकता हैं। शेयर बाजार में किस्मत से ज्यादा नॉलेज और प्रेक्टिस काम आती है जो आपको लगातार अभ्यास और अनुभव से मिल सकती हैं। 

अब आप यह जान चुके हो की शेयर बाजार में निवेश कैसे करना है! एक बार फिर कम शब्दो में दोहरान किया जाए तो आपको बस ब्रोकर कम्पनी के द्वारा डीमेट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलना हैं, अपना बैंक अकाउंट डिमैट अकाउंट और ट्रेडिंग से जोड़ना है और उसके बाद आप अपनी नॉलेज के अनुसार शेयर्स खरीदना और बेचना शुरू कर सकते हो। शेयर बाजार में उतार चढ़ाव कैसे होता हैं?

शेयर बाजार रिस्क से भरा हुआ हैं! 

इसका एकमात्र कारण इसमे होने वाला उतार चढ़ाव हैं। सम्भव हैं की जो शेयर्स 1 लाख में खरीदो वह 80 हजार में भी न बेच पाओ और यह भी सम्भव हैं की सुबह की गयी 80 हजार की इन्वेस्टमेंट आपके पास शाम को 1 लाख के रूप में मिले। शेयर्स बाजार में स्थिरता नहीं है, और शायद हम स्थिरता चाहते भी नही। वरना शेयर बाजार में अन्य फील्ड से बेहतरीन रिटर्न कैसे मिलेंगे। शेयर बाजार में उतार चढ़ाव कई कारणों से हो सकता हैं। जब किसी कम्पनी के शेयर की मांग बढ़ती है और बेचने वाले कम होते है

 कम्पनी के शेयर की कीमत बढ़ जाती है और अगर मांग कम होती है और बेचने वाले अधिक होते है तो शेयर की कीमत घट जाती हैं। शेयर बाजार में निवेश से पहले आपको यह बात ध्यान रखनी होगी की बाजार रिस्क से भर हुआ हैं। अगर आप TATA जैसी किसी बड़ी कम्पनी के शेयर्स खरीदते हो तो आपके शेयर्स अधिकतर स्टेबल रहते है और अगर आप किसी नई प्रॉमिसिंग कम्पनी के शेयर्स खरीदते हो तो आपको काफी प्रॉफिट या फिर काफी लॉस भी हो सकता हैं। 

Share Market से प्रॉफिट कैसे निकाले? Share Market Me Profit Kaise Kamaye

काफी सारे लोग शेयर बाजार में लुटे हैं, इसलिए नही क्योंकि उनकी किस्मत खराब थी बल्कि इसलोये क्योंकि उन्होंने ऐसी कम्पनियो में निवेश किया जो उन्हें रिटर्न नही दे पाई। इसलिए हमेशा निवेश करने से पहले कम्पनियो पर अच्छी तरह से रिसर्च करे। उनके पिछले समय के आंकड़े देखे और देखे की कम्पनी ऐसा क्या कर रही है जिससे उसमे ग्रोथ होने की सम्भावना हो।

 अगर आप बड़ी का स्टेबल कम्पनी में निवेश करोगे तो घाटे की सम्भावना कम होगी। उदाहरण के लिए अगर कोई प्रोडक्शन कम्पनी किसी बड़ी फ़िल्म पर मोटा पैसा लगा रही है तो प्रोडक्शन के दौरान उस कम्पनी के शेयर्स की कीमत कम रहेगी जबकि फ़िल्म रिलीज होने के बाद जब प्रोडक्शन कम्पनी पैसा कमाएगी तो शेयर्स की मांग बढ़ेगी

 जिससे की शेयर्स की कीमत भी बढ़ जाएगी। ऐसे में जिन लोगो के पास कम्पनी के शेयर्स हैं उनके लिए यह समय प्रॉफिट कमाने का एक अवसर रहेगा। लेकिन जरूरी नहीं है की फ़िल्म चले, अगर फ़िल्म फ्लॉप हो गयी तो शेयर वालो का घाटा हैं। लेकिन जरूरी नही की उसी समय शेयर बेचे जाए, आप अगली बड़ी फ़िल्म रिलीज होने तक का इंतजार भी कर सकते हो। जब शेयर्स की कीमत में उछाल आये तब उन्हें बेच दो। बस, इसी तरह से शेयर बाजार काम करता हैं और इससे प्रॉफिट कमाया जा सकता हैं।

Leave a Comment